मच्छ मणि क्या है, machh mani kya hai

मच्छ मणि क्या है ? ( Machh Mani Kya Hai )

मच्छ मणि क्या है. आज हम आपको इसके बारे में बताएंगे तो आइए जानते है की मच्छमणि क्या है. और इसके फायदे क्या है. और इसे किस प्रकार से कैसे धारण करना चाहिए. मच्छ मणि ( Machh Mani ) एक राहु ग्रह का रत्न है इस रत्न को पहनने से राहु ग्रह की अंतर दशा और महादषा में राहत मिलती है और यह भूत प्रेत, धन, मान प्रतिष्ठा, आकर्षण, शीघ्र विवाह, प्रेम संबध मजबूत करने हेतू और भी बहुत सी परेशानी से बचने के लिए मच्छ मणि को धारण करने की सलाह दी जाती है मच्छमणि को पहनने शनि के बुरे प्रभाव से भी बचा जा सकता है मच्छमणि ( mach mani ) को धारण करने से जीवन में सफलता मिलती और जीवन की सभी समस्याएं भी जल्द ही खत्म हो जाति है इस तरह से मच्छ मणि क्या है आप इसके बारे में जान ही गए होंगे अब हम आपको इसके फायदे के बारे में बताएंगे तो आइए जानते है की मच्छ मणि के क्या फायदे है।

 

 

इसे भी पढ़ें – मोती की माला के 20 चमत्कारी फायदे – जान कर हो जायेंगे हैरान

 

इसे भी पढ़ें – कार्यों में सफलता, व्यापार में वृद्धि एवं सभी परेशानियों से छुटकारा हेतु धारण करें पीताम्बरी नीलम 

इसे भी पढ़े – गोमेद रत्न धारण करने के फायदे और इसे कैसे खरीदे।

20210922 161215

 

मच्छ मणि के फायदे ? ( Machh Mani Ke Fayde )

मच्छ मणि को पहनने के बहुत से फायदे है आज हम आपको मच्छ मणि के कुछ चमत्कारी फायदे के बारे में बताएंगे तो आइए जानते है की मच्छ मणि के क्या लाभ है।

मच्छ मणि को पहनने से भूत प्रेत, काला जादू,और किया कराया आदि से रक्षा होती है।

मच्छ मणि ( machh mani ) को पहनने से कारोबार में व्यापार में लाभ होता है और नौकरी में भी तरक्की होती है इस प्रकार से मच्छ मणि को पहनने के बहुत से फायदे है।

 

इसे भी पढ़ें – स्फटिक की माला के 10 चमत्कारी फायदे

 

इसे भी पढ़ें – काले जादू से रक्षा, सभी मनोकामना पूर्ति हेतु एवं जीवन में शांति हेतु धारण करें मूंगा रत्न 

Parliament Hill

इसे भी पढ़े :- मोती रत्न के लाभकारी फायदे और इसे कैसे खरीदे और पहनने के फायदे जाने।

मच्छ मणि को पहनने से शत्रु से रक्षा होती है और दिमाग तेज होता है धन से जुड़ी हुई समस्या भी जल्द ही खतम हो जाति है मच्छ मणि को पहनने राहु की अंतरदशा और महादशा में राहत मिलती है मच्छ मणि को राहु का प्रिय रत्न भी माना जाता है इस तरह से मच्छ मणि को पहनने के बहुत से फायदे है।

मच्छ मणि को पहनने से यदि आपके ऊपर काल सर्प दोष या चंडाल दोष है तो मच्छ मणि को पहनने से बहुत राहत मिलती है इस प्रकार से मच्छमणि को पहनने के बहुत से फायदे है ।

मच्छ मणि ( Machh Mani ) को पहनने से स्वास्थ्य में भी बहुत लाभ होता है अगर आपका स्वास्थय बार – बार खराब हो रहा है या आपके घर में कोई न कोई बीमार रहता है तो ऐसे में आपको मच्छ मणि जरूर धारण करना चाहिए ।

• अगर आपको त्वचा से जुड़ा हुआ कोई रोग हैं या कोई अन्य समस्या है तो आपको ऐसे में राहु के इस रत्न मच्छ मणि को जरूर धारण करना चाहिए इससे बहुत अधिक लाभ होता है।

 

इसे भी पढ़ें – पन्ना रत्न क्या है, इसके चमत्कारी फायदे और अभिमंत्रित कहाँ से प्राप्त करें ?

 

इसे भी पढ़ें :~ राहु, केतु और शनि ग्रह को शांत करने वाला चमत्कारी रत्न और धारण करने की विधि ?

इसे भी पढ़े :- जरकन ( zicron american diamond ) क्या होता है, जरकन के फायदे और इसे कैसे खरीदे ।

मच्छ मणि को पहनने के और भी बहुत से फायदे है मच्छमणि को पहनने से जीवन में जल्द ही सफलता मिलती है कार्य में उन्नति होती है ।

• राहु के रत्न को पहनने से सभी परेशानियों में लाभ मिलता है कार्य में सफलता मिलती है जीवन में सुख शांति आती है इस तरह से राहु के रत्न को पहनने से सभी तरह से लाभ होता है ।

मच्छमणि किसका रत्न है ? ( Machj Mani Kiska Ratna Hai )

मच्छमणि किसका रत्न है आज हम आपको इसके बारे में बताएंगे तो आइए जानते है की मच्छमणि किसका रत्न है मच्छमणि ( Machh Mani Ke Fayde ) राहु ग्रह का रत्न है मच्छमणि को पहनने से राहु

के बुरे प्रभाव से मुक्ति मिलती हैं मच्छमणि रत्न को पहनने से जीवन में सुख शांति आती है इस तरह से ज्योतिष के अनुसार अगर राहु की अंतर्दशा या महादशा चल रही हैं तो ऐसे में आपको विशेष रुप से मच्छमणि को धारण करना चाहिए क्योंकि मच्छमणि राहु का रत्न है और इसके बहुत से चमत्कारी फायदे हैं जिसके बारे में हमने आपको बताया है ।

 

इसे भी पढ़ें :- पन्ना रत्न धारण करने के फायदे और नुकसान ?

 

इसे भी पढ़ें – कार्यों में सफलता, दांपत्य सुख एवं सभी सुखों की प्राप्ति हेतु पहनें ओपल रत्न

 

मच्छ मणि धारण करने की विधि / मच्छमणि कैसे धारण करें ( Machh Mani Dharan Karne Ki Vidhi )

मच्छ मणि ( Mach Mani Ke Labh ) एक राहु का रत्न है जिसे धारण करने से राहु से जुड़ी हुई सभी समस्या में राहत मिलती है तो आइए जानते है की मच्छ मणि को कैसे धारण करना चाहिए। सर्वप्रथम एक कटोरी ले और फिर उसमे गंगाजल डाले अब आपको उस कटोरी में राहु के रत्न मच्छ मणि को रखे अब आपको राहु के इस मंत्र का 108 बार जाप करना चाहिए मंत्र इस प्रकार से है “ॐ रां राहवे नम:” इस मंत्र का जाप करने के बाद आपकों मच्छ मणि में फूक देना है इससे यह और अधिक प्रभावशाली हो जाता है अब आपको एक जलती हुई अगरबत्ती लेना है और उस अगरबत्ती को मच्छ मणि को दिखा देना है अब यह पूरी तरह से सिद्ध है अब आपको इसे माध्यम उंगली में धारण करना चाहिए इस तरह से मच्छ मणि को किस प्रकार से धारण करना चाहिए आप इसके बारे में जान ही गए होगे अब हम आपको राहू से बचने के उपाय के बारे में बताएंगे ?

 

 

इसे भी पढ़े :- ओपल रत्न क्या है, ओपल रत्न के फायदे और ओपल रत्न कैसे खरीदे।

राहु से बचने के उपाय ? ( Rahu Se Bachne Ke Upay )

राहू के बुरे प्रभाव से बचने के लिए आप मच्छमणि को धारण कर सकते है इसे धारण करने से राहू के बुरे प्रभाव से बचा जा सकता है मच्छ मणि ( Mach Mani ) को धारण करने से राहू की महादशा में राहत मिलती है और भूत प्रेत, जादू टोना, और ऊपरी बाधाएं भी समाप्त हो जाती है इस प्रकार से राहु के बुरे प्रभाव से बचने के लिए आप मच्छ मणि को धारण कर सकते है।

मच्छ मणि किस दिन पहनना चाहिए ? ( Machh Mani Kis Din Pahnna Chahiye )

मच्छ मणि को शनिवार के दिन पहनना चाहिए शनिवार के दिन मच्छ मणि को पहनने से राहू ग्रह शांत होता है और अगर शनि देव की महादशा चल रहीं है तो आप ऐसे में भी मच्छ मणि को धारण कर सकते है मच्छ मणि को शनिवार के दिन पहनना चाहिए इससे जीवन में सुख शांति आती है और भूत प्रेत, जादू टोना, धन से जु़डी समस्या, करोबार में नुकसान, और आदि समस्या भी जल्द ही समाप्त हो जाति हैै

इसे भी पढ़े :- मोती रत्न कैसे धारण करे और इसे धारण करने के अद्भुत फायदे।

असली मच्छ मणि कहां से खरीदे ? ( Asli Machh Mani Kaha Se Kharide )

हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र मछमणि मात्र – 1400₹ में जनकल्याण हेतु दी जा रही है, लैब सर्टिफिकेट और गारंटी कार्ड साथ में दिया जाएगा साथ ही साथ मुफ्त में अभिमंत्रित भी करके दी जाएगी, मंगवाने हेतु संपर्क सूत्र – Call and Whatsapp – 7567233021

1 thought on “मच्छ मणि क्या है, machh mani kya hai”

Leave a Comment

Open chat
1
हमसे बात करें -
नमस्कार मित्रों
हम आपकी क्या सहायता कर सकते है ?