ओपल रत्न क्या हैै, ( Opal Ratna Kya Hai )

ओपल रत्न ( Opal Ratna )

ओपल रत्न क्या होता है, इसके फायदे, इसको कौन पहन सकता है, ओपल रत्न ( opal ratna ) के नुकसान, ओपल रत्न धारण विधि,ओपल रत्न की पहचान, ओपल रत्न कहा से खरीदे, ओपल रत्न की कीमत, ओपल रत्न की पहचान, ओपल कितने रत्ती का पहने, ओपल कहा – कहा पाया जाता है, इसी तरह से आज हम आपको ओपल रत्न ( opal ratna ) से जुड़ी हुई सभी बातों के बारे में विस्तार से बताएंगे तो आइए ओपल रत्न के बारे में जानते है ।

ओपल पहनने के फायदे

ओपल रत्न क्या है ? ( Opal Ratna Kya Hai )

ओपल एक सफ़ेद कीमती रत्न है यह रत्न खनिज से
प्राप्त होता है यह रत्न बहुत से रंगो में प्राप्त होता है लेकिन
सबसे अधिक लोग सफेद ओपल ( safed opal ) को पसंद करते है ओपल अपने विभिन्न रंगों से जाना जाता है ओपल का अर्थ उपल है और इसे संस्कृत में ओपला भी कहा जाता है। यह रत्न ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शुक्र से जुड़ा हुआ है ओपल रत्न शुक्र के प्रभाव को बढ़ाने के लिए ज्योतिश इसे धारण करने की सलाह देते है इतना ही नहीं ओपल रत्न ( opal ratna ) को मकर, कुंभ, मिथुन और कन्या राशि के जातक भी पहन सकते हैं ।

इसे भी पढ़े :- जरकन ( zicron american diamond ) क्या होता है, जरकन के फायदे और इसे कैसे खरीदे ।

ओपल रत्न के लाभ ? ( Opal Ratna Ke Fayde )

ओपल रत्न ( opal ratna stone ) अपने ज्योतिषीय गुणों और सौंदर्य आकर्षण के लिए इसे पहचाना जाता है, ओपल सभी के लिए बहुत लाभदायक है, यह आने वाली सभी परेशानी को ख़त्म करता है, ओपल रत्न के बहुत से लाभ है, ओपल रत्न सभी लोगों को धारण करना चाहिए,

ओपल रत्न किसको पहनना चाहिए ? ( Opal Stone benefits )

उत्तर :- दोस्तो ओपल रत्न  ( Opal Ratna Benefits ) तुला और वृष राशि के जातकों को पहनना चाहिए यह उनके लिए अत्यंत लाभकारी है इतना ही नहीं इसको सभी राशि के लोग धारण कर सकते है लेकिन धारण करने से पहले आपको उच्च ज्योतिष से सलाह जरूर लेनी चाहिए ओपल रत्न ( opal ratna ) को मकर, कुंभ, मिथुन और कन्या राशि के जातक भी पहन सकते हैं। मकर, कुंभ, मिथुन, कन्या राशि के जातक भी पहन सकते हैं इस तरह से ओपल रत्न हर कोई धारण कर सकता है इस तरह से ओपल एक बहुत ही अच्छा रत्न होता है ।

ओपल रत्न के चमत्कारी फायदे ? ( Opal Ratna Pehne Ke Fayde )

उत्तर :- ओपल रत्न ( opal ratna ke labh ) एक बहुत ही अच्छा रत्न है वैदिक ज्योतिष के अनुसार यह रत्न ग्लैमर, उद्योग, मॉडलिंग, आकर्षण, प्रेम, सौंदर्य, रोमांस, सिनेमा, ललित कला, फैशन उद्योग और फ़ाइल उद्योग आदि कार्य में रुचि रखने वाले लोगो के लिए ओपल रत्न बहुत ही लाभकारी है इस तरह से अगर आप भी यह सभी कार्य करते है या इन सभी कार्यों में रुचि रखते है तो यह रत्न आपके लिए बहुत लाभकारी होगा ।

अगर आप संगीत, चित्रकला, नित्य आदि क्षेत्रों में रुचि
रखते है तब भी यह ओपल रत्न आपके लिए बहुत लाभकारी है आपको इस रत्न को जरूर धारण करना चाहिए इससे आपको आपक कार्य क्षेत्र में सफलता मिलेगी और आप और भी आगे बढ़ेंगे इस तरह से ऐसे जातकों को ओपल रत्न धारण करना
उपयोगी माना गया है ।

ओपल रत्न को पहनने से बहुत से फायदे है यह रत्न आपके पारिवारिक जीवन में खुशियां लाता है वही अगर कोई शादी शुदा व्यक्ति ओपल को धारण करता है तो उसके दांपत्य जीवन में खुशियां आएगी इसी तरह से अगर आपकी शादी नही हो रही है तो भी यह रत्न आपके लिए बहुत ही लाभदायक है ओपल रत्न ( Opal Ratna ) को धारण करने से आपको सभी तरह से लाभ होता है ।

ओपल रत्न कहां से खरीदें ? ( Opal ratna price )

उत्तर :- दोस्तो अगर आप लय प्रमाणित सर्टिफिकेट के साथ ओरिजनल ओपल खरीदना चाहते है तो आप हमें 7567233021 इस नंबर पर संपर्क कर सकते है आपको
हमारे यहां ओपल बहुत ही कम कीमत में मिल जाएगा ।

ओपल रत्न के नुकसान ( हानि ) ( Opal Ratna ke nuksan )

ओपल रत्न पहनने वाले व्यक्ति का शरीर बहुत ही ठंडा और • • • आलसी हो जाता है
• यदि आपका शुक्र 3, 8, या 12 वे भाव में है तो आपको ओपलरत्न ( opal ratna ) नही धारण करना चाहिए
ओपल पहनने वाले व्यक्ति को सामान्य से अधिक
प्यास लगती है
• यदि आप ओपल धारण ( opal ratna kaise dharan kare ) करते है तो आपको अधिक ठंडी चीजों का सेवन नही कारण चाहिए और आपको कड़वी चीजों का भी सेवन नही करना चाहिए

ओपल रत्न कैसे धारण करें ? ( Opal Ratna Kaise Dharan Kare )

ओपल रत्न सीधे हाथ की तर्जनी अंगुली में धारण
करना चाहिए इस रत्न को धारण करते समय शुक्र देव का 108 मंत्र का जाप कर लेना चाहिए मंत्र (ॐ द्रां द्रीं द्रौं सः शुक्राय नमः) और दीप धूप से विधिवत पूजा अर्चना करके अंगूठी को धारण करना चाहिए ।

ओपल रत्न की पहचान ? ( opal ratna ki pehchan kaise kare )

ओपल रत्न ( opal ratna kaisa hota hai ) की पहचान इसके मूलभूत गुणों के कारण
की जाती है असली ओपल रत्न वही होता है जिसमें हमको लैब प्रमाणित सर्टिफिकेट मिले असली ओपल की यह भी खास बात होती है की यह अधिक चमकता नही अगर कोई ओपल अधिक चमकता हो तो समझ जाए की वह ओपल नकली है इतना ही नहीं असली ओपल रत्न पत्थर का होता है और यह बहुत महंगा और कीमती होता है असली ओपल रत्न खरीदने से पहले आपको उस ओपल रत्न का सर्टिफिकेट जरूर लेना चाहिए इतना ही नहीं नकली ओपल रत्न अधिक चमकता है अगर कोई व्यापारी आपको नकली ओपल रत्न ( opal ratna ) देगा तो वह आपकी किसी भी प्रकार से सार्टिफिकेट नही देगा और उस ओपल रत्न को खरीदने के कुछ दिन बाद ही ओपल रतन का कलर उतरने लगता है । इससे भी ओपल रत्न की पहचान की जा सकती है। इतना ही नहीं असली ओपल ( opal stone kis liye hota hai )  रत्न को अगर सूक्ष्मदर्शी यंत्र से देखा जाए तो इसके अंदर दाग धब्बे होते है इससे भी आप एक असली ओपल रत्न पहचान सकते है ।

ओपल रत्न कितने रत्ती का पहनना चाहिए ( opal ratna kitne ratti ka pehne )

ओपल रत्न ( opal stone kis dhatu me pahne ) आपको आपके वजन (Weight) के हिसाब से धारण करना चाहिए नही तो यह आपको हानि पहुंचा सकते है अगर आपका वजन 50kg है तो आपको 5 रत्ती का ओपल पहनना चाहिए उसी तरह से आपका वजन जितना अधिक होगा आपको उतना ही अधिक रत्ती का ओपल पहनना चाहिए ।

ओपल रत्न कहा – कहा पाया जाता है ? ( Opal Ratna Kaha Paya Jata Hai )

उत्तर :- ओपल रत्न मुख्य रुप से ऑस्ट्रेलिया में पाया जाता है पुरी दुनिया में 95 % ओपल ऑस्ट्रेलिया में पाया जाता है इसके अतिरिक्त ओपल रत्न ( opal stone ) , मैक्सिको, ब्राजील,ऑस्ट्रेलिया तथा दक्षिण अफ्रीका, और आदि देशों में मुख्य रुप से ओपल रत्न पाया जाता है ।

ओपल रत्न किस धातु में पहनना चाहिए ( Opal Ratna Kis Dhatu Me Pahnna Chahiye )

ओपल रत्न ( opal ratna ) चांदी में पहनना चाहिए इससे विशेष लाभ मिलता है अगर आप चाहे तो इसको सोना, पंचधातु, या अष्टधातु में भी पहन सकते है यह आपको सभी तरह से लाभ देगा ।

ओपल धारण करने का मंत्र ? ( Opal Dharan Karne Ka Mantra )

ओपल धारण ( opal ratn dharan karne ki vidhi ) करते समय आपको इस विषेश मंत्र का जरूर 108 बार जाप कर लेना चाहिए नही तो ओपल पूर्ण रुप से कार्य नही करता है मंत्र कुछ इस प्रकार से है ॐ द्रां द्रीं द्रौं सः शुक्राय नमः इस मंत्र का आपको जाप करना चाहिए ।

Parliament Hill

ओपल रत्न पहनने का समय ? ( opal Ratna kis din pahne )

सुबह नहा धोकर पूजा पाठ करके आपको शुक्रवार के दिन ओपल रत्न ( opal ratna kyon pahnne ) धारण कर लेना चाहिए ओपल रत्न को धारण करने का विशेष दिन शुक्रवार को बताया गया है ।

ओपल रत्न किस उंगली में पहना जाता है ? ( Opal Ratna kis unglin me dharan karna chahiye )

ज्योतिश के अनुसार ओपल को शुक्रवार के दिन अनामिका उंगली में धारण किया जाता है यह उंगली आपके लिए सर्वश्रेष्ठ है इस से ओपल ( opal stone) को अनामिका उंगली में पहनना चाहिए ।

ओपल रत्न कितने समय में प्रभाव देता है ? ( opal ratna kaisa hota hai  )

ओपल पहनने ( opal ratna ) मात्र से ही व्यक्ति को प्रभाव देने लगता है लेकिन इसका प्रभाव दिखाई देने में 4 से 5 दिन लग जाता हैं इतना ही नहीं यह प्रभाव आपके लिए सभी तरह से लाभकारी होता है ।

Leave a Comment

Open chat
1
हमसे बात करें -
नमस्कार मित्रों
हम आपकी क्या सहायता कर सकते है ?