शनि देव के क्रूर दृष्टि से बचने के अत्यंत लाभकारी उपाय ? (shani dev se bachne ke upay)

Parliament Hill

शनि देव के क्रूर दृष्टि से बचने के अत्यंत लाभकारी उपाय ? (shani dev se bachne ke upay)

नमस्कार मित्रों इस लेख में आपका स्वागत है मित्रों शनि का प्रकोप (shani ka prabhav in hindi) जातक के जीवन में आने पर उसे हर प्रकार से बर्बादी की और ले जाता है शनिदेव अच्छे लोगों को प्रेम करते है और बुरे लोगों से घृणा करते है इसीलिए जब उनकी दृष्टि किसी पर पड़ती है तो वह व्यक्ति जिस पर शनिदेव की क्रुर दृष्टि है वह व्यक्ति पूरी तरह से बर्बाद हो जाता है ऐसा नहीं है कि आप शनि देव की क्रुर दृष्टि से बच नहीं सकते ।

 

shanidev se bachne ke upay, shanidev ka prabhav kaise kam karen,
shani dev se bachne ke upay

 

मित्रों ज्यादातर यह देखा गया है कि जिन लोगों पर शनिदेव की दृष्टि (shani ke upay hindi) होती है उन पर भूत प्रेत बाधा होता है मित्रों हमसे हजारों मात्रा में हमारे वातावरण में भूत प्रेत है लेकिन कुछ लोग उनसे बचे रहते हैं और कुछ लोग उनसे पीड़ित रहते है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि जब शनि का प्रभाव होता है तो वह हमारे शरीर के रक्षात्मक ऊर्जा को कम कर देता है जिससे हमें भूत प्रेत द्वारा पीड़ित होना पड़ता हैं ऐसा नहीं है कि इससे छुटकारा नहीं पा सकते बड़ी आसानी से इससे छुटकारा पाया जा सकता है।

आप हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र से भूत प्रेत बाधा निवारण ताबीज मंगा सकते है जिसे पहनने मात्र से ही आपको आराम मिल जाएगा और उसके साथ में पीने का यंत्र भी देते जिससे खिलाया पिलाया निकल जाता है इस चीज की हमारे यहां गारंटी है यह 101% कार्य करता है यह हमारे यहां बहुत कम कीमत पर जन कल्याण हेतु बनाया गया है इसकी कीमत मात्र ₹251 रुपए है। (डिलीवरी फ्री)

Contact and WhatsApp :- (917567233021)

कुछ ऐसे उपाय है जिसे करने पर हम शनिदेव के प्रकोप से बच भी सकते है और उन्हें प्रसन्न भी कर सकते है जिन उपायों के बारे में हम आगे बात करेंगे।

शनिदेव से बचने हेतु क्या न करें :- (shanidev se bachne ke upay)

1. मांस मदिरा का सेवन न करें :- (shani ka prabhav kaise kam kare)

शनिवार के दिन मांस मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए ऐसा करने से शनिदेव नाराज हो जाते है जिससे आपको अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

2. सरसों का तेल

शनिवार के दिन सरसों का तेल नहीं खरीदना चाहिए ऐसा करने पर आपको परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

3. लोहे का सामान

शनिवार के दिन लोहे का सामान नहीं खरीदना चाहिए ऐसा करने से शनिदेव नाराज होते है और जीवन में परेशानी आती है।

4. नमक न खरीदें

मित्रों शनिवार के दिन नमक नहीं खरीदना चाहिए क्योंकि शनिवार को नमक खरीदने से घर में कर्ज की वृद्धि होती है और कर्ज से बचने हेतु शनिवार को नमक न खरीदें।

My Image

5. मसूर की दाल

शनिवार के दिन मसूर की दाल न ही खरीदना चाहिए और न ही खाना चाहिए क्योंकि इसे मंगल और सूर्य से जोड़ा गया है और इनसे शनि का शत्रुवत संबंध है ऐसा करने से शनि अपने उग्र स्वरूप में आ जाते है।

6. शनिदेव की मूर्ति

मित्रों कभी भी शनि देव की ऐसी मूर्ति को कभी ना देखे जिसमें भगवान शनि की आंखें दिखाई देती है।

7. हरे पेड़ और गर्भपात

कभी भी हरे भरे पेड़ों और पौधों को ना काटे और गर्भपात न करवाएं।

शनिदेव से बचने हेतु क्या करें : (shani ke prabhav se kaise bache)

1. रोज सुबह प्रात काल में स्नान के पश्चात हनुमान चालीसा का पाठ अवश्य करें। हनुमान चालीसा का पाठ करने वाले व्यक्ति के जीवन में कभी शनिदेव का प्रकोप नहीं होता है ज्योतिषों के अनुसार यह सबसे सरल और प्रभावशाली उपाय माना गया है।

2. शुक्रवार के रात को काला चना पानी में भिगो दें और शनिवार के दिन भीगा काला चना, जला हुआ कोयला, हल्दी और लोहे का एक टुकड़ा ले लें और काले कपड़े में इसे बांध दें और उस पोटली को आप तालाब में फेंक दें और इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि उस तालाब में मछलियां होना आवश्यक है ऐसा हर शनिवार को करने से शनि का प्रभाव कम होगा और उनकी कृपा आप पर बनेगी।

3. शनिवार के दिन पीपल के पेड़ के चारो ओर सात बार कच्चा सूत लपेटें ऐसा करने से शनिदेव कि क्रुर दृष्टि से छुटकारा मिलता है और शनिदेव प्रसन्न होते हैं।

4. शनिवार को शनिदेव कि पूजा जरूर करें। शनि के बीज मंत्र का आपको 1 माला जाप करना चाहिए (और भी कर सकते हैं आपके इच्छा अनुसार) मंत्र कुछ इस प्रकार है : ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः। शनिवार को शनि चालीसा भी पढ़ सकते है और घर में शनि यज्ञ भी करवा सकते हैं ऐसा करने से आपको अत्यंत लाभ प्राप्त होगा।

5. मित्रों सिद्ध नीलम की अंगूठी दाएं हाथ के मध्यम उंगली में पहनने से शनि के प्रकोप से अत्यधिक लाभ प्राप्त होता है क्योंकि यह शनि का रत्न है इसीलिए यह शनि के प्रभावों को अत्यधिक कम करता है।

नीलम को धारण करने के अत्यंत लाभकारी फायदे : (neelam stone benefits in hindi)

नीलम से व्यापार वृद्धि होती है और भाग्य में वृद्धि होती है, धन आने के अनेकों मार्ग उत्पन्न होंगे, कार्यक्षेत्र में उन्नति होगी जिससे मान प्रतिष्ठा भी बढ़ेगी, धैर्य बढ़ेगा, बौद्धिकता, तार्किकता एंव संस्कारों में वृद्धि होती है, स्त्री या पुरुष जो डिप्रेशन में हैं उन्हें नीलम रत्न अवश्य धारण करना चाहिए क्योंकि इसे धारण करने से वह तनाव से मुक्त हो जाएंगे और सकारात्मक जीवन प्राप्त करेंगे, मित्रों अगर आप दांत रोग, लकवा, हड्डियों में दर्द और दमा रोग जैसी बीमारी से परेशान हैं तो आपको इसे अवश्य धारण करना चाहिए यह इन बीमारियों को दूर करने में सक्षम है, अगर आपको कमर दर्द, सिर दर्द व कैंसर आदि जैसे रोग हैं तो इसे धारण करने से लाभ प्राप्त होगा, अगर आपको रात को भय लगता है घबराहट बनी रहती है तो ऐसी परिस्थिति में नीलम को अवश्य धारण करना चाहिए इससे भय दूर होता है। इस प्रकार मित्रों इसे धारण करने के अनेकों फायदे हैं।

मित्रों ज्योतिषों की मानें तो नीलम रत्न की अंगूठी शनि से पीड़ित व्यक्ति को अवश्य पहननी चाहिए अगर आप हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र से सिद्ध नीलम रत्न मंगाना चाहते है जो की आपको सिद्ध मात्र ₹751 में मिल जाएगा (डिलेवरी फ्री)

Contact and WhatsApp :- (917567233021)

6. हर शनिवार को लाल कपडे पहनकर हनुमान जी के सामने आएं।

7. रोजाना पश्चिम दिशा की और दीपक को जलाकर शनिदेव के मंत्र का जाप करें।

8. घर के छोटे लोगों और अपने सहायकों से प्यार से बात करें ।

9. नीले रंग की चीजों का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करें ।

10. हमेशा सच बोलें, ईमानदार रहें और अपने बुजुर्गों का सम्मान करें और उनकी सेवा करें।

11. घोड़े की नाल का छल्ला शनिवार के दिन अपने मध्यम उंगली में धारण करें इससे आपको अधिक लाभ प्राप्त होगा।

12. प्रातकाल के पहले पीपल की पूजा करनी चाहिए इससे शनिदेव खुश होते है । पीपल के पेड़ पर तेल में लोहे कि कील डालकर चढ़ाना चाहिए।

13. सोमवार से शनिवार तक रविवार को छोड़कर लगातार 43 दिन तक शनिदेव की मूर्ति पर तेल चढ़ाने से शनिदेव का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

14. शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए शनिवार को उपवास और दान जरूर करें और काली गाय को उड़द तेल या तिल खिलाने से शनिदेव बहुत प्रसन्न होते है।

15. पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाने और उसकी परिक्रमा करने से शनिदेव का आशीर्वाद मिलता है।

16. रोजाना पूजा करते समय महामृत्युंजय मंत्र ओम नमः शिवाय का जाप करें इससे शनि के दुष्प्रभावों से छुटकारा मिलता है।

17. दिन के दोनों समय काले नमक और काली मिर्च का प्रयोग करें।

18. घर में कोई ऐसी जगह जहां पर अंधेरा हो तो वहां पर एक कटोरी में सरसों का तेल डालकर उसके अंदर ताबें का सिक्का डुबों कर रखें।

शनिदेव की दृष्टि समय ऐसी ही अनेकों परेशानियां जीवन में आती है और उपाय के माध्यम से इससे छुटकारा भी पाया जा सकता है। मित्रों अगर आप इन सभी परेशानियों को अपने जीवन से हमेशा के लिए दूर करना चाहते है तो आप हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र के पंडितों से मंत्र जाप करवा सकते है जो आपको लाइव देखने को मिलेगा मंत्र जाप करवाने हेतु संपर्क सूत्र : WhatsApp and Call :- 7567233021

मित्रों यह कुछ प्रभावी उपाय है जिनसे आप शनि के प्रभाव से बच सकते है अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे अपने मित्रों में अवश्य भेजें।

अगर आप भी भूत, प्रेत, डाकिनी, शाकिनी, गंधर्व, बेताल, ब्रह्मराक्षस, चुड़ैल, जिन्न आदि से परेशान है तो इससे आप बहुत आसानी से छुटकारा पा सकते है हमारे पूज्य गुरुदेव के द्वारा दिए गए ताबीज से आप इन सभी से मुक्ति पाकर अपने जीवन को सुखमय बना सकते है ताबीज मात्र ₹251 में आपको घर बैठे प्राप्त हो जाएगी ।

Contact and WhatsApp :- 7567233021

अगर आपके घर में पारिवारिक समस्याएं है पति पत्नी में मतभेद है घर में लड़ाई झगड़ा होता है परिवार में लड़ाई झगड़ा होता है किसी मित्र से दुश्मनी है, मुकदमा चल रहा है ऐसी ही अनेकों समस्याओं से पूर्ण छुटकारा पाकर अपने जीवन को सकारात्मक व आनंदपूर्ण बनाने के लिए हमारे परम पूज्य गुरुजी से अवश्य बात करें। Contact no :- (+917567233021)

अगर आप डायनों से बचना चाहते है या महाशक्तिशाली सिद्धियां (काली सिद्धि, भैरव सिद्धि, हनुमान सिद्धि, काली कलकत्ते सिद्धि, बंगलामुखी सिद्धि, जिन्न सिद्धि, महापिसाच सिद्धि, ऐसी ही महाशक्तिशाली सिद्धियां सीखना चाहते है और अपने आपको महाशक्तिशाली बनाना चाहते है तो आप हमारे पूज्य गुरुदेव जी से बात कर सकते है वे सभी महासिद्धियों के ज्ञाता है गुरुदेव जी का नंबर नीचे दिया हुआ है आप उनसे बात कर सकते है :-(+917567233021)

ऐसी ही अनेकों रोचक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट :- www.jyotisite.com पर अवश्य जाएं

45 thoughts on “शनि देव के क्रूर दृष्टि से बचने के अत्यंत लाभकारी उपाय ? (shani dev se bachne ke upay)”

  1. Pingback: Amar Jyotis

Leave a Comment

Open chat
1
हमसे बात करें -
नमस्कार मित्रों
हम आपकी क्या सहायता कर सकते है ?